सेकेंड हैंड कार खरीदने की सोच रहे हैं तो, हमेशा याद रखें ये 4 बातें, होंगे बहुत सारे फायदे

49
Second Hand Car Buying Tips

Second Hand Car Buying Tips | क्या आप सेकेंड हैंड कार खरीदने की सोच रहे हैं? तो ये खबर जरूर पढ़ें. दरअसल, कई बार नई कार खरीदना घाटे का सौदा हो सकता है। खासकर तब जब आपकी आर्थिक स्थिति आपको ऐसा करने की इजाजत नहीं देती. ऐसे में बेवजह पैसे बर्बाद करने से बेहतर है कि आप सेकेंड हैंड कार खरीद लें, लेकिन इसमें कुछ दिक्कतें भी हैं।

जैसे, एक अच्छी कार ढूंढने और फिर चुनने में बहुत मेहनत लगती है। लेकिन चिंता न करें, क्योंकि आज इस आर्टिकल में हम आपके लिए कुछ दमदार टिप्स लेकर आए हैं, जो एक अच्छी पुरानी कार खरीदने में आपके लिए काफी मददगार साबित होंगे।

1. अपना बजट तय करें

पुरानी कार हो या नई, आपको हमेशा अपना बजट तय करना चाहिए। इसके कई फायदे हैं, जैसे आप अपनी पसंद को लेकर स्पष्ट रहते हैं। साथ ही कार खरीदते समय आपको बजट संबंधी कोई परेशानी भी नहीं आती है। वहीं अगर आप सेकेंड हैंड कार खरीद रहे हैं तो आप अपने बजट के हिसाब से विक्रेता से मोलभाव कर सकते हैं। इससे फायदा होगा.

2. इंटरनेट पर लंबी रिसर्च करें

अगर आपके पास फोन है और इंटरनेट चलाना जानते हैं तो यकीन मानिए यह आपके हजारों रुपये बचा सकता है। इसके लिए बस आपको थोड़ा समय निकालना होगा और इंटरनेट पर सही से रिसर्च करनी होगी। आपको यह देखना होगा कि आप कौन सी कार खरीदना चाहते हैं और उसकी रेंज और फीचर्स क्या हैं। आप अपने बजट और कार रेंज में उपलब्ध अन्य सभी विकल्प भी देख सकते हैं।

3. टेस्ट ड्राइव जरूर लें

जब आप नई कार खरीदने जाते हैं तो टेस्ट ड्राइव जरूर लेते हैं। इसी तरह आपको सेकेंड हैंड कारों की भी टेस्ट ड्राइव लेनी चाहिए, यह काफी मददगार साबित हो सकती है। दरअसल, महज आधे घंटे की टेस्ट ड्राइव में आपको इंजन और उसके इंटीरियर से जुड़ी हर छोटी से छोटी जानकारी आसानी से मिल जाएगी। साथ ही आपको कार की कंडीशन से जुड़ी लगभग हर बात पता चल जाएगी, जिसके बाद आप आसानी से तय कर पाएंगे कि आपको यह कार चाहिए या नहीं।

4. मोलभाव करना होगा

अब अगर आप इस आखिरी पड़ाव पर पहुंच गए हैं तो खरीदारी का वक्त आ गया है. ऐसे में किफायती कीमत पर कार खरीदने का हर संभव प्रयास करें। इसके लिए आपको सीधे कार मालिक से बातचीत करनी चाहिए। उन्हें कार की कमियों के बारे में बताएं और कार से जुड़ी हर जानकारी भी लें। आप कार से जुड़ी खामियों के बारे में जितना जानेंगे, उतनी ही कम कीमत में कार खरीद पाएंगे। हालांकि, ध्यान रखें कि कम कीमत के चक्कर में क्वालिटी से समझौता न करें।